नकली नोट छापने वाला 5 आरोपी गिरफ्तार

0
235
nakli note

नईदिल्ली-

आगरा में एसटीएफ ह शहीद नगर एकता पार्क से स्कैनर अउ प्रिंटर के मदद से स्टांप पेपर उपर 100-100 के जाली नोट छापने वाला गिरोह के पांच सदस्य ल शुक्रवार सुबह गिरफ्तार करे हे। ये लोगन जाली करेंसी ल शराब के ठेका उपर चलाय। पिछले डेढ़ साल से ये गोरखधंधा चलत हे। गिरोह के पास से 100-100 के नकली नोट के 3.5 गड्डी (35000 रुपये), लैपटॉप, स्कैनर, प्रिंटर, मोबाइल बरामद करे हे। नकली नोट के ये कारखाना सदर बाजार के शहीद नगर के एकता कॉलोनी में चलत रिहिस हे। गिरफ्तार आरोपी कृष्णापुरी, कहरई मोड़, शमसाबाद रोड के शिवम तोमर अउ ओमकार झा, नया बांस रोड, शमसाबाद के अवधेश सविता, धिमश्री शमसाबाद के सुनील, मियांपुर ताजगंज के लाखन हे। ओमन एकता कॉलोनी में मकान किराए उपर ले रखे रिहिस हे ये शातिर 10 रुपये के स्टांप पेपर के कटिंग करके तीन नोट बनाय। येकर उपर बडे सफाई से सिल्वर थ्रेड लगाय ।

10 हजार रुपए के नकली नोट के एक गड्डी तैयार करे में 450 रुपय के खर्च आय। एक गड्डी शराब के ठेका में  सेल्समैन ल 5000 रुपय में दीये जाय। सेल्समैन नशे में धुत लोगम ल आसानी से नकली नोट थमा दे। शमसाबाद रोड के रहने वाला मोनू, देवरी रोड के विनोद, सेवला का जीतू, धनौली का मुकेश सेल्समैन हे जो नोट चलाय। येकर गिरफ्तारी नई हो पाय हे। एसटीएफ के सीओ श्यामकांत ह बताईस कि गिरफ्तार आरोपी ल जेल भेज दिये गेहे। गिरफ्तार आरोपी ह बताईस कि जाली करेंसी के बिचपुरी, शमसाबाद, अछनेरा, किरावली में ज्यादा चलाय गेहे। देसी ठेका के कैंटीन में घलो येकर सप्लाई करे जाय। हर महीना चार से पांच लाख रुपय के जाली करेंसी खपाय जात रिहिस । 100 के नोट उपर कोई ज्यादा ध्यान नई दे तेकर सती येला भी बनाय जाय |

 

 

image-source-google

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here