350 मासूम लइका मन से मंगात रिहिस भीख, विभाग ह छापा मारिस त का होईस खुलासा

0
20
child-bigger

रायपुर-

तिल्दा नगर के तीन नट बस्ति में 380 परिवार के लगभग साढ़े तीन सौ लईका बस अउ ट्रेन में भिक्षावृत्ति करत रिहिन | ये मामला में शुक्रवार के सुबह महिला एवं बाल विकास विभाग अउ पुलिस के टीम ह तिल्दा के अटल निवास, देवार मोहल्ला अउ शिक्षा कॉलोनी में छापा मारिस त उहा हड़कंप मच गे।

बस्ती में अधिकारी मन के टीम ल अचानक देखके घबरा गे। ओकर बस्ती में सामाजिक संस्था के कार्यकर्ता मन ल देख एकजुट होके विरोध बर उतारू होगे । पुलिस ह ओमन ल अपन लइका के साथ एक जगह एकत्रित करिस। ओकर बाद नट अउ देवार बस्ती के लोगन ल समझाय गिस।

बस्ती वाला मन के कहना हे की ओकर सामने सबसे बडे परेशानी गृहस्थी चलाय के हे। न तो राशन कार्ड हे अउ न ही श्रमिक कार्ड हे | ओकर मन के समस्या सुने के बाद अफसर मन कहिस की लइका मन से भिक्षावृत्ति न कराय अभी प्राथमिक स्तर में आंगनबाड़ी में दाखिला कराय।

ओकर बाद राशनकार्ड अउ श्रमिक कार्ड बनवाय जाही। स्वरोजगार करे बर कौशल विकास के प्रशिक्षण भी दिये जाही। हर एक सरकारी योजना के लाभ मिलही। अधिकारी मन के बात माने के ओमन खुद आंगनबाड़ी जाके 80 लइका के दाखिला कराईस।

स्तानीय पुलिस ल प्रशासन ह नट लइका मन के बाहर आय जाय के निगरानी रखे के जिम्मेदारी देहे। अब अगर ओ लइका मन बस या ट्रेन में भीख मांगते दिखिस त कानूनी कार्रवाई करे जाही ।

दोबारा लइका मन अगर भीख मंगते दिखिस त लइका मन ल आश्रम भेजे जाही। अउ माता-पिता ल लइका से नई मिलन दे। नट बस्ती के लोगन ल प्रशासन ह ये चेतावनी देहे । बाल अश्रम में लइका मन के रहना खाना के साथ पढ़ाई आदि के व्यवस्था करे जाही। बस्ती के लोगन ल शपथ दीलाईस की लइका मन से भीख नई मगवांन ।

 

 

image-source-google

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here